India

अब Konark Sun Temple देगा, पुरे Konark शहर को बिजली …

Konark sun temple, konark city, solar power, power, mega watt, Odisha, hindi

भारत सरकार ने ओडिशा में कोणार्क सूर्य मंदिर और कोणार्क शहर को 100% सौर ऊर्जा से चलने का फैसला किया है। ओडिशा में कोणार्क को “सूर्य नगरी” के रूप में विकसित करने के प्रधानमंत्री के सपने को आगे बढ़ाने के लिए यह निर्णय लिया गया है। यह सौर ऊर्जा और प्राचीन सूर्य मंदिर के आधुनिक उपयोग का संदेश देगा और यह सौर ऊर्जा को भी बढ़ावा देगा।

इसमें 10-MW ग्रिड से जुड़े सौर परियोजना और विभिन्न सौर ऑफ-ग्रिड applications जैसे solar tree, सौर पेयजल  और off grid सौर ऊर्जा संयंत्रों के साथ battery storage शामिल होगा। इस प्रोजेक्ट का 100 % Central Financial assistance (CFA), Ministry of New and Renewable Energy के द्वारा खर्च किया जाएगा जोकि लगभग 25 Crore है।

जानिए कोणार्क सूर्य मंदिर के बारे में।

कोणार्क का निर्माण 13 वीं शताब्दी में गंगा वंश के राजा नरसिम्हदेव प्रथम (1238-1264AD) ने किया था और यह पवित्र नगरी पुरी के पास पूर्वी ओडिशा में स्थित है। मंदिर को एक विशाल रथ के आकार में बनाया गया है जो सूर्य भगवान को समर्पित है। कोणार्क सूर्य मंदिर के दोनों ओर 12 पहियों की दो पंक्तियाँ हैं।इसमें सात घोड़ों को सप्ताह के सातों दिनों का प्रतीक कहा जाता है।

इस मंदिर का उपयोग यूरोपीय नाविकों द्वारा Navigational point के रूप में किया जाता था। उन्होंने इसके काले रंग और इसकी चुंबकीय शक्ति के कारण इसे ‘Black Pagoda’ के रूप में जाना जाता था, जिसने जहाजों को किनारे में फेंक दिया और जहाजों को नुकसान पहुंचाया।इसे 1984 में यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर घोषित किया गया था।

 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top
// Infinite Scroll $('.infinite-content').infinitescroll({ navSelector: ".nav-links", nextSelector: ".nav-links a:first", itemSelector: ".infinite-post", loading: { msgText: "Loading more posts...", finishedMsg: "Sorry, no more posts" }, errorCallback: function(){ $(".inf-more-but").css("display", "none") } }); $(window).unbind('.infscr'); $(".inf-more-but").click(function(){ $('.infinite-content').infinitescroll('retrieve'); return false; }); $(window).load(function(){ if ($('.nav-links a').length) { $('.inf-more-but').css('display','inline-block'); } else { $('.inf-more-but').css('display','none'); } }); $(window).load(function() { // The slider being synced must be initialized first $('.post-gallery-bot').flexslider({ animation: "slide", controlNav: false, animationLoop: true, slideshow: false, itemWidth: 80, itemMargin: 10, asNavFor: '.post-gallery-top' }); $('.post-gallery-top').flexslider({ animation: "fade", controlNav: false, animationLoop: true, slideshow: false, prevText: "<", nextText: ">", sync: ".post-gallery-bot" }); }); });