Uncategorized

चीन ने जिस धर्मगुरु को लगभग 25 साल से कैद किया हुआ था अमेरिका ने किया छोड़ने का आग्रह

Gedhun Choekyi Nyima, Gyaltsen Norbu, पंचेन लामा, Panchen lama, china, america, चीन, अमेरिका, US asks China to release Panchen Lama

US asks China to release Panchen Lama: अमेरिका ने चीन को तिब्बती बौद्ध धर्म के पंचेन लामा जोकि 11 दलाई लामा भी माने जाते हैं छोड़ने का आग्रह किया है आपकी जानकारी के लिए बता दे कि चीन ने पंचेन लामा को जब वह 6 वर्ष के थे तब से ही बंदी बना रखा है।

1995 में Gedhun Choekyi Nyima को तिब्बती बौद्ध धर्म के 11वीं गुरु के रूप में नियुक्त किया गया था। जोकि तिब्बती बौद्ध धर्म है दलाई लामा के बाद दूसरा सबसे ऊंचा पद है। लेकिन अगले ही दिन चीन ने उन्हें बंदी बना लिया और उनकी जगह पर अपना ही एक पंचेन लामा Gyaltsen Norbu नियुक्त कर दिया था।

तिब्बत चीन के एक स्वतंत्र क्षेत्र के रूप में शासित है। बीजिंग इस क्षेत्र पर सदियों से अपना दावा करता रहा  है, लेकिन कई तिब्बतियों का तर्क है कि तिब्बत चीन का केवल एक उपनिवेश था।

सन 1950 में चीन ने सेना भेजकर पूरे तिब्बत क्षेत्र पर कब्जा करने की कोशिश की जिसके परिणाम स्वरूप तिब्बत का कुछ भाग चीन में शामिल हो गया था सन 1959 में दलाई लामा ने विद्रोह किया जो असफल हो गया था इसके बाद दलाई लामा ने भारत में शरण ली और आज दिन तक भारत से ही तिब्बत पर शासन कर रहे हैं।

तिब्बती बौद्ध धर्म केवल तिब्बत तक ही सीमित नहीं था। यह हिमालय में लद्दाख से लेकर सिक्किम तक फैला हुआ था। जिसमें नेपाल भी शामिल था उस समय भूटान का राष्ट्रीय धर्म भी तिब्बती बौद्ध धर्म ही था।

“हमें पता नहीं है कि वे कहां हैं, और हां, हम चीनी अधिकारियों को पैंचेन लामा को मुक्त करने  के लिए दबाव डालते रहेंगे जबतक दुनिया को यह पता नहीं चलता  कि वह कहां है,”  सैम ब्राउनबैक जो USCIRF (United States Commission on International Religious Freedom) के अम्बेसडर है उन्होंने गुरुवार को एक कॉन्फ्रेंस  के दौरान संवाददाताओं को कहा। इस बयान को लेकर चीन ने अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है!

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top
// Infinite Scroll $('.infinite-content').infinitescroll({ navSelector: ".nav-links", nextSelector: ".nav-links a:first", itemSelector: ".infinite-post", loading: { msgText: "Loading more posts...", finishedMsg: "Sorry, no more posts" }, errorCallback: function(){ $(".inf-more-but").css("display", "none") } }); $(window).unbind('.infscr'); $(".inf-more-but").click(function(){ $('.infinite-content').infinitescroll('retrieve'); return false; }); $(window).load(function(){ if ($('.nav-links a').length) { $('.inf-more-but').css('display','inline-block'); } else { $('.inf-more-but').css('display','none'); } }); $(window).load(function() { // The slider being synced must be initialized first $('.post-gallery-bot').flexslider({ animation: "slide", controlNav: false, animationLoop: true, slideshow: false, itemWidth: 80, itemMargin: 10, asNavFor: '.post-gallery-top' }); $('.post-gallery-top').flexslider({ animation: "fade", controlNav: false, animationLoop: true, slideshow: false, prevText: "<", nextText: ">", sync: ".post-gallery-bot" }); }); });